हॅलो..,मी दाऊद बोलतोय...!

10 आॅगस्ट : भारताचा मोस्ट वाॅन्टेड डाॅन दाऊद इब्राहिम कुठे लपून बसलाय याचा शोध लागलाय. सीएनएनन्यूज 18 ने दाऊदचा माग काढत अखेर त्याच्याशी थेट फोनवर संवाद साधला. खुद्द दाऊद फोनवर होता आणि त्याने आपल्याला हार्ट अॅटक, गँगरीन झाल्याचं फेटाळून लावलं. माझा फक्त बीपी वाढला होता असा खुलासा खुद्द दाऊदने केला. विशेष म्हणजे दाऊद इब्राहिम पाकिस्तानात असल्याचा दावा नेहमी पाक सरकारने फेटाळून लावलाय. मात्र, खुद्द दाऊदच कराचीत बोलत होता. त्यामुळे पाकचा हा दावा साफ खोटा ठरलाय. एवढंच नाहीतर मध्यंतरी दाऊदच्या प्रकृतीबद्दल वेगवेगळ्या बातम्या प्रसिद्ध झाल्या होत्या. दाऊदला हार्ट अॅटक आला, दाऊदला गँगरीन झालं अशा बातम्या झळकल्या होत्या. मात्र, खुद्द दाऊदने फोनवर सगळ्या बातम्या खोट्या ठरवल्यात. माझी तब्येत फर्स्ट क्लास आहे, एकदा फक्त काय तो ब्लड प्रेशर (बीपी) वाढलं होतं असंही दाऊद म्हणाला. असं झाला दाऊदशी संवाद पहिल्यांदाच अंडरवर्ल्ड डाॅन दाऊद एखाद्या वृत्तवाहिनीशी थेट बोलला. सीएनएन-न्यूज 18 चे एडिटर मनोज गुप्ता यांनी दाऊदशी संवाद साधला. त्यांनी याच वर्षीच्या मे महिन्यात दाऊदशी संवाद साधला होता. त्यानंतर दोन महिन्या या आॅडिओ क्लिपची वेगवेगळी चाचणी घेण्यात आली. जी लोकं दाऊदला ट्रॅक करत होती त्यानाही हा आॅडिओ दाखवण्यात आला. त्यांनीही हा आवाज दाऊदचाच असल्याचं स्पष्ट केलं. त्यानंतरच आम्ही ही आॅडिओ प्रसिद्ध केला. दाऊदसोबत फोनवर झालेले जशाचा तसा संवाद मनोज गुप्ता: हैलो...हैलो दाऊद: हां..जी मनोज गुप्ता: दाऊद साहब... दाऊद: आप कौन... मनोज गुप्ता: जी साहब गुड इवनिंग. दिस इज मनोज गुप्ता फ्रॉम सीएनएन-न्यूज18 (मैं सीएनएन-न्यूज18 से मनोज गुप्ता बोल रहा हूं). कुछ देर रुककर... दाऊद: नहीं ये छोटानी बोल रहे हैं. मनोज गुप्ता: हां जी? कुछ देर रुककर... दाऊद: बोल बोल जावेद छोटानी: सलाम वालेकुम मनोज गुप्ता: हां वालेकुम सलाम जावेद छोटानी: कौन बोल रहे हैं मनोज गुप्ता: जी मैं मनोज गुप्ता बोल रहा था सीएनएन-न्यूज18 से मनोज गुप्ता: दाऊद साहब थे? जावेद छोटानी: जी जी, मनोज भाई बोलिए मनोज गुप्ता: दाऊद साहब से बात करा दीजिए जावेद छोटानी: कौन दाऊद साहब मनोज गुप्ता: दाऊद इब्राहिम साहब जावेद छोटानी: बोलिए क्या है? मनोज गुप्ता: जी मैं मनोज बोल रहा हूं. वो जानते हैं मेरे को. पूछ लीजिए उनसे एक बार मनोज गुप्ता: उन्होंने उठाया था फोन थोड़ी देर रुककर मनोज गुप्ता: वो जानते हैं मेरे को. पूछ लीजिए उनसे एक बार दाऊद: हां बोलो बोलो जावेद छोटानी: हां बोलो बोलो मनोज गुप्ता: वो... तो सर, आप पाकिस्तान में हो, कराची के अंदर जावेद छोटानी: किसने बोला ये मनोज गुप्ता: ये तो नंबर पाकिस्तान का है ना दाऊद : टाईम वेस्ट मत कर जावेद छोटानी: खुदा का खौफ कर... टाईम वेस्ट कर रहा है... तू किससे बात कर रहा है... किसका इंटरव्यू ले रहा है... कुछ पता है तुझे? जावेद छोटानी: नहीं आप बताओ इतना लंबा इंटरव्यू ले रहे हो. इतनी सारी बातें कर रहे हो... पता है भी किससे कर रहे हो? मनोज गुप्ता: दाऊद साहब से जावेद छोटानी: खुदा का खौफ कर. एक तो नाम ऐसे लेते हो. आपको क्या वो ऐसे किसी फोन पर मिल जाएंगे क्या जावेद छोटानी: किसने कहा तुम्हें ये नंबर... मिटा दो ये नंबर.. तुम एक काम करो: मुझे एक नंबर दो जिससे मैं आपका मैसेज किसी के थ्रू पास करवा सकता हूं. जावेद छोटानी: मैं बोल रहा हूं कि आप कितने माशाल्लाह समझदार पत्रकार लग रहे हो तो आपको लगता है कि आप कोई भी नंबर मिलाओगे तो फट से दाऊद साहब उठा भी लेंगे. आप इंटरव्यू भी ले लोगे. जावेद छोटानी: नंबर दो मैं बात करवाता हूं मनोज गुप्ता: हां.. 90XXXXXXXX जावेद छोटानी: आप आप बताओ: सीधे स्टूडियो में इंटरव्यू लेंगे डायरेक्ट? मनोज गुप्ता: कैमरा भेज देता हूं सर कराची में जावेद छोटानी: कराची में? क्यों...आप सिर्फ मुझे क्यों बोल रहे हो. बात करवाने के लिए और मिलवाने के लिए... भेज दो नंबर मनोज गुप्ता: सर एक छोटा इंटरव्यू दे दो दाऊद: नहीं इंटरव्यू नहीं कुछ देर रुककर...... मनोज गुप्ता: सर आप कहां पर हैं... मैं एक कैमरा भेज दूं कराची में. दाऊद का सहायक: इफ्तार का टाइम है...जाने दे बेटा मनोज गुप्ता: सर एक इंटरव्यू कर दो दाऊद साहब मनोज गुप्ता: सर एक बार मिल लो मुझसे दाऊद: मिल लेते हैं दाऊद का सहायक: कहां है मनोज गुप्ता: मैं दिल्ली में... बताओ सर आपके पास आ जाऊं दाऊद का सहायक: दिल्ली पे हो.. दुबई आ जा, दुबई आ जा मनोज गुप्ता: दुबई कब सर? मनोज गुप्ता: सर कैमरा भेज दूं कराची में थोड़ी देर रुककर.... मनोज गुप्ता: हैलो दाऊद का सहायक: ये कोई टाइम है इंटरव्यू करने का....इफ्तहार का टाइम है. कोई नमाज का टाइम होता है, थोड़ा ध्यान तो दो यार मनोज गुप्ता: एक छोटा सा इंटरव्यू कर दो 2 मिनट का मनोज गुप्ता: दाऊद इब्राहिम साहब बोल रहे हैं दाऊद: अच्छा बोल दाऊद का सहायक: अच्छा बोलो क्या पूछना चाह रहे हो थोड़ी देर रुककर.... मनोज गुप्ता: कुछ टाइम दीजिए सर दाऊद का सहायक: जब दिल करे मनोज गुप्ता: कब आऊं सर दाऊद का सहायक: anytime (कभी भी) कुछ देर रुककर... मनोज गुप्ता: सर करा दो एक बार बात दाऊद का सहायक: हां तो नंबर दो अपना, मैं करा देता हूं मनोज गुप्ता: 98XXXXXXXX दाऊद:लिख दाऊद का सहायक: कहां लोगे इंटरव्यू, डायरेक्ट स्टूडियो में लोगे इंटरव्यू मनोज गुप्ता: हम फोन पर लेंगे इंटरव्यू दाऊद का सहायक: हम फोन पर नहीं देते इंटरव्यू मनोज गुप्ता: कैमरा भेज देता हूं आपके पास कराची में दाऊद का सहायक: जब आपको सब पता है तो मुझको क्यों पूछ रहे हो मिलवाने के लिए दाऊन का सहायक: भेज दो और एक काम करना साथ में आप भी आ जाना दाऊद का सहायक: अब हमारी बात तब होगी जब आप हमारे सामने होंगे कुछ देर रुककर.... दाऊद: इनका नाम क्या है जावेद छोटानी: आप का नाम क्या है...आप का नाम क्या है वैसे मनोज गुप्ता: जी सर मनोज गुप्ता दाऊद: लिख जावेद छोटानी: बेफिक्र हो जाओ.... नंबर नोट कर लिया है मैंने आपका, नाम भी...इंशाअल्लाह करते हैं. मनोज गुप्ता: क्या हाल हैं सर. गुड इवनिंग दाऊद का सहायक: गुड इवनिंग मनोज गुप्ता: कैसे हैं सर थोड़ी देर रुककर.... दाऊद का सहायक: हैलो मनोज गुप्ता: दाऊद साब गुड इवनिंग दाऊद का सहायक: गुड इवनिंग मनोज गुप्ता: सर मनोज गुप्ता हीयर मनोज गुप्ता: जी बोलो बोलो, कैसे हैं मनोज गुप्ता: जी बढ़िया बढ़िया. सब अल्लाह का करम है आप सुनाओ दाऊद का सहायक: सब बढ़िया है मनोज गुप्ता: और सर, तबियत ठीक है? दाऊद का सहायक: अल्लाहम-दिल-अल्लाह, फर्स्ट क्लास मनोज गुप्ता: सर ये जो बीच में अफवाह उड़ रही था कि आपको हार्ट अटैक हो गया और आपको गैंगरीन हो गया दाऊद: BP बढ़ गया था एक बार.. BP बढ़ गया था एक बार
First published:

Tags: Dawood ibrahim, दाऊद इब्राहिम

पुढील बातम्या